14 वें वित्त आयोग की संस्तुति के अंतर्गत प्रदेश सरकार पंचायती राज विभाग में 9031 पदों पर भर्ती करेगी | भर्ती पंचायत सहायक ,कंप्यूटर ऑपरेटर, लेखाकार और अवर अभियंता के पदों पर की जायेगी | संभव है की भर्ती प्रक्रिया निकाय चुनाव के बाद शुरू की जाये,सभी पदों पर भर्ती आउटसोर्सिंग से की जायेगी | पंचायती राज सचिव जीतेन्द्र बहादुर सिंह ने बताया की पंचायत सहायक के 4926,कंप्यूटर ऑपरेटर के 1642,लेखाकार के 821 और अवर अभियंता के 1642 पदों पर भर्ती की निति पंचायती राज निदेशक को भेज दी गई है |

पंचायती राज विभाग में होने वाली भर्ती के लिए योग्यता और वेतन निम्नानुसार है –

पद नाम पदों की संख्या मानदेय योग्यता
पंचायत सहायक 4926 8000 PER MONTH सिविल से डिप्लोमा और 3 वर्ष का अनुभव
कंप्यूटर ऑपरेटर 1642 9000 PER MONTH इंटरमीडिएट + NIELT से CCC और 3 वर्ष का अनुभव
लेखाकार 821 15000 PER MONTH B.COM + NIELT से CCC और 3 वर्ष का अनुभव
अवर अभियंता 1642 20000 PER MONTH सिविल से B.Tech और 3 वर्ष का अनुभव
अथवा सिविल से डिप्लोमा और 7 वर्ष का अनुभव

4000 पदों पर होगी लेखपाल की भर्तियाँ

प्रदेश सरकार ने नई नियमावली जारी की है जिसके अंतर्गत राजस्व निरीक्षक के सभी पद अब पदोन्नति से ही भरे जायेंगे,अतः लेखपालो और अमीनो को पदोन्नति करके लेखपाल बनाया जायेगा | राजस्व निरीक्षक के लगभग 1500 पद रिक्त हैं जिस पर 1140 से अधिक लेखपालों,330 संग्रह अमीनों और 30 भूमि अर्जन अमीन की पदोन्नति हो सकेगी, जिससे लगभग लेखपाल के 1000 पद खाली हो जायेंगे , और राजस्व परिषद के एक अधिकारी के अनुसार लेखपालो के लगभग 3000 पद पहले से ही खाली है | इस तरह से कुल लगभग 4000 पदों पर लेखपाल की भर्ती की जायेगी |

उम्मीद है की यह भर्ती प्रक्रिया निकाय चुनाव ख़तम होने के बाद शुरू की जायेगी |

पुलिस भर्ती पर नहीं पड़ेगा आचार संहिता का असर

भर्ती बोर्ड के सूत्रों के अनुसार इस महीने नई भर्ती के लिए विज्ञापन आने की संभावना बहुत कम है |अभी 2015 की मेरिट वाली भर्ती के लिए कोर्ट के फैसले का इंतज़ार किया जा रहा है हाईकोर्ट ने मेरिट भर्ती पर 9 अक्टूबर को ही अपना निर्णय सुरक्षित कर लिया था | और कोर्ट का निर्णय आने के बाद ही नई CONSTABLE BHARTI 2017 की भर्ती प्रक्रिया शुरू की जायेगी | पुलिस भर्ती बोर्ड के चेयरमैन जी पी शर्मा ने कहा है ,विभाग में जो भी भर्ती प्रक्रियां चल रही हैं उस पर निकाय चुनाव के आचार संहिता का कोई असर नहीं पड़ेगा उन्होंने बताया की प्रदेश में बड़ी संख्या में सिपाहियों की भर्ती करनी है जिसके लिए अभी विज्ञापन अभी जारी नहीं किया गया है भर्ती बोर्ड इसकी तैयारियां कर रहा है उनके अनुसार अगर निकाय चुनाव समाप्त होने से पहले विज्ञापन जारी करना पड़ा तो राज्य निर्वाचन आयोग की अनुमति लेकर भर्ती प्रक्रिया आगे बढाई जायेगी |